Top Letters
recent

एंटी रोमियो दल के थानेदार साहब, मैं अपनी पत्नी के साथ ताजमहल परिसर में बैठना चाहता हूं

सेवा में,
श्रीमान थानेदार साहब
(Anti-Romio Squad)
पुलिस थाना आगरा
 उत्तरप्रदेश

 विषय: प्यार के इजहार की इजाज़त हेतु।

महोदय,

सविनय निवेदन है कि मेरी शादी की पचीसवीं सालगिरह पर मैं मेरी पत्नी के साथ ताजमहल देखने आया हूँ। मेरी उम्र 45 साल है, जिसके सबूत के तौर पर मैं अपने आधार कार्ड की अटेस्टेड फ़ोटो कापी पेश कर रहा हूँ। (खुराक की कमी के चलते डीलडौल में मेरी उम्र कुछ कम लगती है।)

मुझे कमल का फूल पसन्द है। मैंने कमल पर ही बटन दबाया था। मेरी पत्नी को भी फूल पसन्द है। कमल का फूल महँगा होने से मैं मेरी पत्नी को गुलाब का फूल देकर अपने हाथ से पत्नी के बालों में लगाऊँगा। मेरा हाथ देखकर कृपया हमारी निष्ठा पर शक नहीं करेंगे।

हमारी पुरानी यादें ताज़ा करने की ख़ातिर मैं पत्नी को साइकल पर आगे बैठाकर भी घुमाना चाहता हूँ। साइकिल का भी ग़लत अर्थ न लगाने की कृपा की जावे।

मैं अपनी पत्नी के साथ ताजमहल के परिसर में बैठना चाहता हूँ। इस दौरान हम (पति-पत्नी) हाथों में हाथ पकड़ कर घूमेंगे, बैठेंगे और प्यार भरी बातें करेंगे -जिसकी हमें इजाज़त देने की मेहरबानी अता फ़रमावें।

इसे भी पढ़ें...
'एंटी रोमियो स्क्वॉयड' की कार्रवाई से दुखी एक बनारसी प्रेमिका की प्रेमी के नाम मार्मिक चिट्ठीे

चूँकि आजकल यूपी में प्यार के इजहार पर रोक लगी हुई है, इसलिए निवेदन है हम दम्पति को रोमियो-जूलियट जैसा गहन प्रेमी भले समझ लें, मगर कृपा कर गिरफ़्तार नहीं कारावें क्योंकि हम संस्कार से प्रेमी हैं, बदमाश नहीं हैं।

(नोट: इस दौरान मैं गहरे भूरे रंग की पतलून पहने रहूँगा और मेरी पत्नी हरे-केसरिया रंग का सलवार-कुर्ता पहने होगी।)

प्रार्थी-
भोला राम भारतीय
[अगर आप भी लिखना चाहते हैं कोई ऐसी चिट्ठी, जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो हमें लिख भेजें- merekhatt@gmail.com. हमसे फेसबुकट्विटर और गूगलप्लस पर भी जुड़ें]
Myletter

Myletter

Powered by Blogger.