Top Letters
recent

ट्विटर पर पोस्ट इस चिट्ठी को पढ़कर हर कोई 22 साल की ओलिविया का दीवाना हो गया !

22 वर्षीय ग्रेजुएट ओलिविया ब्लैंड को जब मैनचेस्टर की एक ट्रैवल सॉफ्टवेयर कंपनी वेब अप्लीकेंशस यूके में नौकरी मिली तो उसने नौकरी का ऑफर ठुकरा दिया और इसकी वजह एक ओपन लेटर में लिखी जो ट्विटर पर वायरल हो गया. इंटरव्यू में कंपनी के सीईओ क्रेग डीन के खराब बर्ताव की वजह से ओलिविया ने इस कंपनी में जॉब करने से इनकार कर दिया. ओलिविया ने ट्विटर पर लिखा है- 

‘मुझे वेब एप्लीकेशंस में नौकरी ऑफर की गई, लेकिन इंटरव्‍यू में 2 घंटे के प्रताड़ित करने वाले इंटरव्यू में मुझे और मेरी राइटिंग स्किल्स को जमकर कोसा गया था. मैं इंटरव्यू के लिए कमरे में पहुंची और क्रेग काफी समय तक हाथ मिलाने के लिए खड़े नहीं हुए. वह फोन पर बिजी थे और उन्होंने मुझसे कहा कि वह स्पॉटिफाई चेक कर रहे हैं. उसके बाद सीईओ ने कई बैंड के नाम लिए जो मुझे जाने-पहचाने लगे. उन्होंने द 1975 का नाम लिया तो मैंने कहा कि वे मैनचेस्टर में पिछले हफ्ते थे लेकिन मैं उनकी बहुत बड़ी फैन नहीं हूं.  इस पर सीईओ ने कहा, अगर ये तुम्हारी प्लेलिस्ट में है तो तुम्हें फैन होना चाहिए था. तब मुझे एहसास हुआ कि क्रेग असल में स्पॉटिफाई पर मेरी प्लेलिस्ट चेक कर रहे थे. मुझको बहुत ही अजीब महसूस हुआ.

इसे भी पढ़ें...
पति की एक्स गर्लफ्रेंड के नाम साइंस की एक प्रोफेसर का ख़त, कमजोर तुम हो, मैं नहीं 

क्रेग ने इसके बाद मुझसे कुछ अजीबोगरीब सवाल पूछे जैसे कि क्या तुम्हारे पैरेंट्स अभी साथ रहते हैं. इंटरव्यू के दौरान मेरे होने वाले बॉस ने सीवी देखकर मुझे अंडरअचीवर करार दिया. मैंने काफी वक्त तक सीईओ की हर बात को सकारात्मक आलोचना के तौर पर लेने की कोशिश की लेकिन फिर रिटेन टेस्ट पर सीईओ की टिप्पणी मेरे लिए बर्दाश्त से बाहर थी. क्रेग ने कहा कि तुम्हारी 45 मिनट की इस राइटिंग के मुकाबले मुझे अपनी कही हुईं बातें ज्यादा अच्छी लग रही हैं. यह सुनकर मैं इमोशनल हो गई. इसके बाद क्रेग ने रूम में दो और लड़कियों को बुला लिया. मुझसे कोई सवाल नहीं पूछा जा रहा था बस ऐसा लग रहा था कि वे मुझे अपमानित करने के लिए बुलाई गई हैं. 

इसे भी पढ़ें...
बेटी के हजारों सवालों का जवाब, लिफाफे में बंद पिता की एक चिट्ठी

इंटरव्यू के अंत में सीईओ ने मुझसे कहा कि मैं इसे प्रोफेशनल समझकर अपने तक रखूं. सीईओ ने कहा, तुम्हें लग सकता है कि मैं बहुत एरोगेंट हूं लेकिन मैं तुम्हें तुम्हारे बारे में बताकर तुम्हारे ऊपर दया कर रहा हूं. ऑफिस से बाहर आते ही मेरी आंखों में आंसू आ गए. मुझे लगा कि मैं बिल्कुल भी काबिल नहीं हूं, मैं क्यों इन नौकरियों के लिए अप्लाई कर रही हूं. शायद मुझे कुछ आसान सा काम करना चाहिए. हालांकि, मैं तब हैरान रह गई जब मुझे कंपनी से नौकरी का ऑफर आया. मैंने मौखिक तौर पर तो नौकरी के लिए हां कर दी, लेकिन अगले दिन ही महसूस किया कि जॉब ऑफर लेना मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी गलती होगी.

इसे भी पढ़ें...
बड़े होते बेटे के लिए मां का ख़त, तुम्हारी पीढ़ी के हर लड़के को दोहरी ज़िम्मेदारी उठानी होगी 

इधर-उधर का बहाना बनाने के बजाय मैंने कंपनी को अपने फैसले की सही-सही वजह बताई. मैं ऐसे लोगों की बकवास सुनते-सुनते थक चुकी हूं जिन्हें लगता है कि वे इस तरह से लोगों पर अपनी अथॉरिटी दिखा सकते हैं और लोगों को छोटा दिखा सकते हैं. एब्यूसिव रिलेशनशिप में रहने के बाद मैं साउथ कोस्ट से मैनचेस्टर आ गई थी. मैं पर्सनल तौर पर पहले ही ये सब झेल चुकी थी और प्रोफेशनल लेवल पर इन्हीं चीजों से गुजरना नहीं चाहती थी. मुझे लगा कि शायद मेरे सच्चाई बयां करने से कंपनी को कुछ एहसास हो. पहले मैं अपना लेटर ट्वीट नहीं करना चाहती थी, लेकिन फिर मुझे लगा कि मेरी तरह कई और लोगों ने भी ऐसी चीजें झेली होंगी. कई बार ना कहने की हिम्मत होनी चाहिए.
My Letter

My Letter

Powered by Blogger.