Top Letters
recent

Business

videos

अंधेर नगरी में अंधेरे का जश्न मनाएंं और चौपट राजाओं के लिए ताली बजाएंं

- पुष्पम प्रिया चौधरी आज सुबह हो गयी पर बिहार में सुबह नहीं हुई। मैं बिहार वापस एक उम्मीद के साथ आयी थी कि मैं अपने बिहार और अपने बिहारवासिय...
Read More

ट्रंपू भइया अब आपको भारत की हवा मलिन लगने लगी? लगता है आपको बिहार वाला भैक्सीन घोंपना पड़ेगा!

-रवीश कुमार आदरणीय ट्रंप भाई, आप काहें बोले कि भारत की हवा मलिन है। गंदी है। अपने फ़्रेंड के कंट्री की हवा को अइसे बोलिएगा। दू दू जगह आपके फ...
Read More

आज पहली बार ऐसा देखा कि एक बच्चे ने अपने से ठीक बराबर की उम्र के बच्चे के सामने हाथ फैला दिया है

- मिथुन कुमार मौसम सुहाना होता है तो अलग-अलग तरह के लोग अलग-अलग तरह की क्रियाएं करने लगते हैं। कवि मोहब्बत पर कविता लिखने लगता है। घुम्मकड़ ब...
Read More

ट्रंप के नाम रवीश कुमार का खुला ख़त, झूठ को सच की तरह बोलने वाले आप अकेले बड़े नेता हैं

-रवीश कुमार श्रीयुत् महामहिम ट्रंप जी, प्रणाम,  मुझे ख़ुशी है कि आप पद नहीं छोड़ना चाहते हैं। मत छोड़िए। चार साल सुपर पावर रहने के बाद कुर्स...
Read More

महात्मा गांधी की किताब 'मेरे सत्य के साथ प्रयोग' की ही ताक़त थी कि मैं उस नफ़रत से निकल आया

- शुभम तिवारी लगभग 2012 की बात है  और उन दिनों मैंने 'मेरे सत्य के साथ प्रयोग' पढ़ी थी। उस समय संघ के लोगों से मिलना जुलना था ही। ...
Read More

पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के नाम नौजवान का खत, लाल बहुत हैं किंतु एक है लाल बहादुर

प्रिय शास्त्री जी , कैसे हैं? पता नहीं। पर इतना विश्वास है कि जैसे भी होंगे, जहाँ भी होंगे, स्वाभिमान से होंगे। अपना और इस मुल्क का सर उठ...
Read More

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री के नाम रवीश कुमार की चिट्ठी, मेडिकल छात्रों से बात करने के लिए थोड़ा सा समय निकालें

- रवीश कुमार मंगल पांडे जी, समझ सकता हूं कि आप चुनाव कार्य में व्यस्त होंगे। चुनाव आयोग के कारण आप नीतिगत फैसला नहीं ले सकते लेकिन आपके स...
Read More

इंजीनियरिंग के एक छात्र की चिट्ठी से जानिए, गुजराती न्यूज़ चैनलों में क्या दिखाया जा रहा है?

आर्जव पारेख   भावनगर के रहने वाले हैं। इंजीनियरिंग के छात्र हैं। आर्जव ने गुजराती चैनलों पर एक लेख लिखा है। आपके सामने हाज़िर कर रहा हूँ।...
Read More

'हमारा क्षत्रिय धर्म मुल्जिमों के समर्थन में नहीं, असहायों के साथ खड़े होने में है, न्याय देने में है, न्याय दिलाने में है'

 -उमाशंकर सिंह मेरे मित्रों , मैं आप लोगों के बीच का ही एक हूँ। थोड़ी सी इतिहास की पढ़ाई की है अतः मैं कह सकता हूँ कि हम आज उसी तरह व्यवहार...
Read More

बापू, तुम जीवन के उच्चतम मूल्यों की वक़ालत करते रहे और हम निम्नतम स्तर तक जाने के लिए बेताब हैं!

-अनिरुद्ध शर्मा ऐ बापू, सुनो!   हमने माना कि एक ज़माना था जब आपकी एक आवाज़ पर पूरा देश खड़ा हो जाता था, कि विश्व में कोई ऐसा देश नहीं जहां ...
Read More

भारत बंद करने वाले किसानों को रवीश कुमार का खुला ख़त, आपको न्यूज़ चैनलों ने भारत में बंद कर दिया है!

किसान भाइयों और बहनों,  सुना है आप सभी ने 25 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया है। विरोध करना और विरोध के शांतिपूर्ण तरीके का चुनाव करन...
Read More

दुनिया का सबसे चर्चित लव लेटर, न जाने तुम्हारे लफ्जों ने इतनी कंजूसी क्यों कर ली है?

इमरोज और अमृता प्रीतम ने जो खत एक-दूसरे को लिखे, वो साहित्य ही नहीं हर प्यार करने वाले के लिए भी धरोहर की तरह हैं। पढ़िए अमृता और इमरोज ...
Read More

देश के बेरोजगार युवाओं को रवीश कुमार का खुला ख़त, जनता बनने की लड़ाई सबसे मुश्किल होती है!

मेरे प्यारे बेरोज़गार मित्रों ,  छोटा पत्र लिख रहा हूँ। मैं आपके आंदोलन से प्रभावित नहीं हूँ। आपमें जनता होने का बौद्धिक संघर्ष...
Read More

पढ़िए आज तक ग्रुप के 'मोदी भक्त' और 'पार्टी पत्रकार' की वो चिट्ठी, जिसकी वजह से इसे गंवानी पड़ी अपनी नौकरी

आदरणीय सर , हिंदुस्तान के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार देश को आत्मनिर्भर बनाने और आगे बढ़ाने के लिए दिन-...
Read More
Powered by Blogger.